Bhabhi ki garam chut पुष्पा भाभी की गरम चूत

bhabhi ki white pussy ki chudai . bhabhi ki kadak tight chut mamme chudai  .Bhabhi ki garam chut पुष्पा भाभी की गरम चूत desi real sex stories 2016 collections

मैं बाथरूम में जाके फ्रेश होके पयज़ामा पहन के बाहर आया. H बाद में मैं कहने लगा कि कंप्यूटर चालू है उसे बंद कर दो अब इतनी देर क्यों चालू रखा है, भाभी कहने लगी कि मुझे उस पर अभी काम है. मैंने कहा कि क्या काम है, उसने कहा कि मैं रोज़ रात को ब्लू फिल्म देखती हूं और भाभी मुझे से कहने लगी कि क्या तुम्हें पसंद है ब्लू फिल्म. मैंने कहा नहीं मुझे बिल्कुल नहीं पसंद है ब्लू फिल्म. मैं नींद का बहाना कर के कहा मुझे नींद आने लगी है मुझे सोना है. तुम देखो. भाभी मुझे सोने का बेड दिखाया और कहा यहां सो जाओ और मैं बेड पर लेट गया.

बाद में ज़रा उठ कर देखा कि आख़िर भाभी क्या कर रही है तो, सच में भाभी एक एडल्ट ब्लू सेक्सी फिल्म देख रही थी. मुझे उसमें इंटरेस्ट नहीं था इस लिए मैं वापस बेड पर आके लेट गया. थोड़े टाइम के बाद मैं देखा के मेरे पयज़ामा पर कुछ कोई मेरे लंड को सहला रहा है. मैंने आंखे खोल कर देखा तो भाभी मेरे पास आकर सोई हुई थी. मैं घबरा गया. मैं सोने की एक्टिंग कर रहा था. तब थोड़ी देर देखता रहा तो वो और भी जोश में आके मेरा लंड को ज़ोर ज़ोर से सहलाने लगी. थोड़ी देर बाद वो धीरे धीरे मेरे पयज़ामे में हाथ डालने लगी. जैसे मैंने उठने की कोशिश की और मैं भाभी को कहने लगा कि यह क्या कर रही हो तो, भाभी कहने लगी कि मुझे बहुत सेक्स चढ़ गया है, मुझे तुमसे चुदवाना है, मैंने कहा नहीं मैं यह काम नहीं करूंगा, मैंने किसी को यह न करने का वादा किया है, उस पर भाभी कहने लगी ओके मुझे मत चोदना पर मुझसे खेल तो सकते हो.

तब भी मैं कहा प्लीज़ मुझे यह सब भी पसंद नहीं है, तब भाभी थोड़ा गुस्सा कर के कहा अगर यह भी मुझसे नहीं किया तो मैं पूरे बल्डिंग वाले को जगा दूँगी कि तुम मेरे घर जबरजस्ती आए हो, और मुझे परेशान करते हो, तब मैं और घबरा गया. पर भाभी सेक्सी फिल्म देख कर बहुत ही गरम हो गयी थी. इसलिए वो नहीं मान रही थी और मैंने भाभी को कहा कि अगर तुमने मुझे अब छुआ तो मैं यंहा से चले जाऊंगा. बाद में भाभी भी कहने लगी के ओके तब मैंने कहा ओके सिर्फ़ तुम मेरे साथ खेल सकती हो पर मैं तुम्हें नहीं चोद सकता. उसने कहा ठीक है. भाभी अपने कपड़े पूरी तरह से निकाल दिया और मेरा वाइट टी – शर्ट उतार लिया. वो मुझसे कहने लगी कि अब मेरे ये बूब्स के निप्पल को थोड़ा अपने हाथ के उंगली से मसल और मैं मचलने लगा. और बाद मेँ कहा अपना मुँह ज़रा मेरे मुँह के पास लाओ, जब मैं मेरा मुँह उसके करीब ले गया तो उसने अपने हाथ से मेरा सर पकड़के उसका मुँह मेरे मुँह से किस करने लगा, और वो ज़ोर ज़ोर से स्मूच करने लगी, मैंने कहा अब बस करो मेरा दम घुट रहा है, तब वो और भी जोश में आके उसने करीबन १८-२० मिनिट तक स्मूच किया.

तब भाभी अपने हाथ से मेरा हाथ लेके वो अपने बूब्स पर रख दिया और कहने लगी कि अब तुम अपने हाथ से मेरे बूब्स और उसके निप्पल को थोड़ा दबाओ और फिर वो अपने हाथो से मेरे पयज़ामे में धीरे धीरे हाथ डाल दिया और फिर थोड़ा मेरे लंड को हिलाने लगी, और कहने लगी कि यह क्या तुम्हारा लंड कितना छोटा है, पर मैं सच यह कभी नहीं किया था इसलिए मैं घबरा रहा था इसलिए मेरा लंड खड़ा नहीं हो रहा था पर भाभी ने कहा अच्छा इसे मैं अभी ठीक कर देती हूं, फिर वो मेरा पाएजामा उतार लिया, और ज़ोर ज़ोर से दबाने लगी फिर भाभी मुझसे कहने लगी कि तुम अब मेरे चुचियां को मुँह में लो और एक हाथ से मेरे चुत के ऊपर तुम्हारी उंगली फिराओ और बस थोड़ी उंगली फिराने के बाद वो और भी गरम हो गयी, और वो फिर मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और वो कहने लगी कि थोड़ा तुम करो अभी मैंने कहा नहीं मैंने किसी को वादा किया है तुम्हें तो मैंने बताया है, मैं नहीं करूँगा तुम्हें और भाभी सोचने लगी कि अब क्या करूं, फिर वो अचानक मेरे सर पर अपनी चुत रगड़ने लगी, और कहा अब मैं अपना हवश ऐसे ही पूरा करूँगी, बस फिर वो ज़ोर ज़ोर से मेरे मुँह को रगड़ रही थी और मैंने कहा इसमें से तो पानी आ रहा है, भाभी ने कहा यह मेरे चुत का पानी है, तब मेरा मूह पूरा उसके चुत के पानी से भर गया था,फिर भाभी ने मेरे लंड को चूसने लगी और कहे रही थी कि तुम मेरे चूत को ज़ोर ज़ोर से चूसो नहीं तो मैं तुम्हारे लंड को खा जाउंगी. फिर मैं मजबूर हो के थोड़ा थोड़ा चूसता रहा और भाभी मेरा लंड ज़ोर ज़ोर से मुँह में हिला रही थी और क्या पता मेरे लंड में एक गर्मी महसूस हुई और मेरे लंड से गरम पानी निकला और पुष्पा भाभी हँसने लगी और कहने लगी कि तुम्हारा इतना गाढ़ा पानी और फिर मैंने कहा कि अब मुझे नींद आ रही है मैं सो जाता हूं. पर भाभी मेरे ऊपर पूरे रात तक पड़ी रही और मुझे किस देने लगी.

यह होने के बाद ८ दिन के बाद फिर भाभी का फोन आया और कहा कि मुझे आज फिर वही करना है, मैने इस बार न कह दिया पर वो मुझसे कहने लगी कि अगर तुम आज रात नहीं आए तो, मैं यह सब से और मेरे पति से कह दूँगी और फिर मुझे उसकी बात माननी पड़ी. ९.०० बजे मैं उसके घर गया, वहां जाके देखा तो उसके साथ और एक उसकी सहेली थी, मैने भाभी से कहा यह कौन है, भाभी कहने लगी कि यह मेरी सहेली पूजा है, और उस दिन की सारी बातें मैंने पूजा को बताई तो वो अब मुझसे ज़िद करने लगी और कहने लगी कि अब फिर से अमित को बुला और हम साथ में ही ऐसा करेंगे और मै पुष्पा भाभी को कहने लगा कि यह सारी बातें तुम अपनी सहेली पूजा को नहीं बताना चाहिए था. और फिर दोनो कहने लगे जाने दो अब क्या अब यह सब बात भूल जाओ, और पूरी रात एंजाय (मज़े) करते हैं. पर मैंने कहा पर हां मैं सिर्फ और सिर्फ और हस्त मैथुन और मुख मैथुन करूँगा. तब दोनो ने कह दिया कोई बात नहीं यही करेंगे. फिर दोनो अपने अपने कपड़े निकाल दिये, और मुझे भी नंगा कर के वो कहने लगे कि नहीं अमित आज तो हम तुझसे चुदवायेंगे ही, उसके बिना तुझे आज नहीं जाने देंगे. मैंने कहा यह ग़लत बात है मैने किसी को वादा किया है और तुम्हें तो यह मैंने हर बार कहा है, और मुझे यह सब पसंद भी नहीं है पर वो लोग पूरी तैयारी किये रखी थी.

पूजा ने मुझे एक गोली दी और खा इसे पिलो मैंने कहा यह क्या है, कहने लगी कि यह विएग्रा की गोली है इससे सब लोगो को मज़ा आयेगा. फिर मुझे वो गोली खिला दी , फिर भाभी ने मुझे बिस्तर पर लिटा के कहा कि अमित मैं तुमसे चूदवाना चाहती हूं, उस दिन मैं प्यासी की प्यासी रह गयी पर आज मैं तुम्हें नहीं छोड़ने वाली. फिर पूजा ने मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर चूसने लगी और भाभी को कहा अब तुम अमित के मुँह पर अपनी चूत रख दो और फिर भाभी ने ज़ोर ज़ोर से अपनी चूत घिसने लगी फिर अपने बूब्स को मेरे हाथ में दे दिये और कहा इसे ज़ोर ज़ोर से दबाओ, और मैं मजबूरी के कारण मैं सब करने लगा, और पूजा ने तो मेरा लॅंड खड़ा होते ही मुझे ज़ोर से काट लिया, और कहने लगी अब मैं अमित के लंड को मेरा मज़ा चखाऊंगी. फिर वो उसकी चूत में मेरा लंड डालने लगी, तब मेरा थोड़ा लूज था और नहीं जा रहा था, तब फिर से वो मेरे लंड को मुँह मेँ लिया और ज़ोर ज़ोर से चूसने, और हिलाने लगी ओर कह रही थी, कम ओन, कम ओन, फिर थोड़ी देर के बाद थोड़ा खड़ा हो गया तब चूत में लंड डालने लगी और थोड़ा गया और कहने लगी अब जा रहा है अमित का लंड.

और फिर उसने मेरे ऊपर पूरा का पूरा मेरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. फिर पूजा ने मुझ पर ज़ोर ज़ोर से ऊपर नीचे करने लगी और अचानक भाभी कहने लगी अब मुझे करने दे तब पूजा नीचे उतर गयी और भाभी ने मेरा लंड अपनी चूत में धकेल दिया और कहने लगी कि वाह क्या लंड है, और वाकई में मैं महसूस करता था कि उसकी चूत वाकई में भाभी की चूत बहुत ही गरम थी. और ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगी और मेरे गोटे को दर्द होने लगा क्योंकि भाभी की गांड बहुत भारी थी और पूजा मुझे उसके बूब्स चुसवाने लगी और बाद में भाभी लगभग २० मिनट तक मेरे लंड से खेली. उसके बाद फिर से पूजा की बारी आयी, और वो तब बहुत गरम हो गई थी मुझ पे चढ़ी और बस तब मेरा लंड जवाब देने लगा था और आख़िर वो ४ या ५ शॉट उछालने के बाद मेरा पानी छूट गया, तब वो मुझसे चिढ़ गयी और कहने लगी कि यह क्या मुझे तो मज़ा भी नहीं आया, और मुझे गाली देने लगी, तब भाभी बोली कोई बात नहीं अब थोड़े टाइम के बाद फिर से करते हैं, क्या पता गोली का असर इतनी जल्दी उतर गया कैसे? पूजा बोली कि गोली का असर शायद अब हो तो , तब भाभी ने कहा तब मज़ा ले लेना. मैं ने कहा नहीं अभी नहीं प्लीज़ मुझे जाने दो पर वो नहीं मानी कि नहीं अभी रात भर हम तुझे परेशान करेंगे

 

bhabhi ki white pussy ki chudai . bhabhi ki kadak tight chut mamme chudai  .Bhabhi ki garam chut पुष्पा भाभी की गरम चूत desi real sex stories 2016 collections